Homeरायपुर : छत्तीसगढ़ को पी.डी.एस. में एक बार फिर मिला प्रतिष्ठित राष्ट्रीय अवार्ड : खाद्य मंत्री को सौंपा अवार्ड

Secondary links

Search

रायपुर : छत्तीसगढ़ को पी.डी.एस. में एक बार फिर मिला प्रतिष्ठित राष्ट्रीय अवार्ड : खाद्य मंत्री को सौंपा अवार्ड

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 14 फरवरी 2014

सार्वजनिक वितरण प्रणाली में कोर पी.डी.एस.- मेरी मर्जी योजना के लिए छत्तीसगढ़ को एक बार फिर प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया है। राज्य को सूचना एवं प्रौद्योगिकी की साफ्टवेयर कम्पनियों के प्रतिष्ठित राष्ट्रीय संगठन नासकाम  NASSCOM मुम्बई द्वारा कोर पी.डी.एस. मेरी मर्जी परियोजना के लिए सामाजिक नवाचार (सोशल इनोवेशन) अवार्ड 2014 से सम्मानित किया गया है। खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले को यहां विधानसभा स्थित उनके कक्ष में विभाग के संचालक श्री उमेश कुमार अग्रवाल ने यह प्रतिष्ठित राष्ट्रीय अवार्ड सौंपा। इस अवसर पर श्री मोहले ने पी.डी.एस. योजना के सफलता के लिए विभागीय अधिकारियों को अपनी बधाई और शुभकामनाएं दी।
श्री मोहले ने कहा कि छत्तीसगढ़ की पी.डी.एस. योजना को देश की सर्वश्रेष्ठ पी.डी.एस. योजना का दर्जा मिला है। इसके सफलता के लिए विभागीय अधिकारियों द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका अदा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत कोई भी हितग्राही अपनी पसंद की उचित मूल्य दुकानों से अपनी सुविधा अनुसार राशन सामग्री प्राप्त कर सकता है। देश में पी.डी.एस. के हितग्राहियों को दुकान चुनने  की सुविधा देने वाला छत्तीसगढ़ प्रथम राज्य है। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) के प्रबंध संचालक श्री एस.के. जायसवाल, राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंध संचालक श्री कौशलेन्द्र सिंह सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ को वर्ष 2012 में कोर पी.डी.एस. मेरी योजना को स्कॉच डिजिटल इंक्लूशन अवार्ड तथा सीएसआई निहिलेंट ई-गवर्नेंस अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।
विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कोर पी.डी.एस. -मेरी मर्जी योजना- रायपुर शहर की सभी 148 उचित मूल्य दुकानों में जुलाई 2012 से संचालित की जा रही है। उन्होंने बताया कि नवम्बर 2012 से दुर्ग शहर की 69 दुकानों, दिसम्बर 2012 से राजनांदगांव शहर की 49 दुकानों तथा जनवरी 2013 से महासमुंद शहर की 17 तथा महासमुंद विकासखंड की 43 दुकानों में यह योजना सफलतापूवर्क संचालित है। उन्होंने बताया कि राज्य के भिलाई, जगदलपुर, धमतरी, बिलासपुर, रायगढ़, कोरबा, अम्बिकापुर, चिरमिरी के नगर निगम में कोर पी.डी.एस. -मेरी मर्जी योजना का विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट में प्रत्येक हितग्राही द्वारा प्राप्त की गई राशन सामग्री का विवरण ऑन लाईन उपलब्ध है, जिससे उचित मूल्य दुकानों के क्रियाकलापों में पारदर्शिता बढ़ी है।

क्रमांक-3797/लहरे

Date: 
14 Feb 2014