Homeकोरबा : स्वच्छता अभियान में सभी वर्गों की भागीदारी करें सुनिश्चित- कलेक्टर

Secondary links

Search

कोरबा : स्वच्छता अभियान में सभी वर्गों की भागीदारी करें सुनिश्चित- कलेक्टर

Printer-friendly versionSend to friend

कोरबा 29 सितंबर 14

कलेक्टर श्रीमती रीना कंगाले ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में राष्ट्रीय स्वच्छता जागरूकता सप्ताह अन्तर्गत किये जा रहे स्वच्छता केंद्रीत कार्यक्रमों की समीक्षा की तथा स्वच्छता का संदेश जन-जन तक पहुंचाने  स्वच्छता अभियान में सभी वर्गों की भागीदारी सुनिश्चित करने व आमजन को स्वच्छता के लिए विशेष रूप से प्रेरित करने के प्रयासों में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने सर्वप्रथम शासकीय कार्यालयों, जिला चिकित्सालय सहित अन्य स्वास्थ्य केंद्रों, आंगनबाड़ी केंद्रों, स्कूल परिसर, आश्रम शालायें, छात्रावास को स्वच्छ रखने हेतु प्रयास करने पर बल दिया। उन्होंने शासकीय अधिकारियों व कर्मचारियों को अपने कार्यालय परिसर को स्वच्छ रखकर स्वच्छता का संदेश जनमानस तक पहुंचाने के निर्देश दिए।

    उन्होंने शालाओं में शौचालय एवं पेयजल स्थानों की साफ-सफाई, रसोई कक्ष, भण्डार कक्ष, खेल के मैदान एवं बगीचों की साफ-सफाई, शाला भवन की रंगाई पुताई का कार्य, अध्ययन कक्ष, प्रयोगशाला, पुस्तकालय आदि की साफ-सफाई करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने सभी शालाओं में बच्चों में स्वाच्छता संबंधी आदतों में सुधार लाने, शालाओं में हाथ धोने के लिए साबुन की उपलब्धता सुनिश्चित करने, स्वच्छ बर्तन में पेयजल का भण्डारण करने के संबंध में विस्तार से निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि हाथों को साबून से धोया जाना किटाणुओं एवं बीमारियों से दूर रहने का सबसे कारगर एवं सशक्त माध्यम है क्योंकि हाथों के माध्यम से ही मल एवं जलजनित किटाणुओं का संचार होता है। उन्होंने बच्चों में भोजन ग्रहण करने के पूर्व व शौच के पश्चात साबून से अवश्य हाथ धोने की आदत डालने के लिए प्रेरित करने  निर्देशित किया।

    कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिला चिकित्सालय की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को शौचालय निर्माण संबंधी कार्यों में तेजी लाने के साथ-साथ शौचालयों के प्रयोग के लिए आमजन को प्रेरित करने हेतु विशेष पहल करने निर्देशित किया। उन्होंने पेयजल की सुरक्षित भण्डारण, हैंडपंप के गंदे पानी के निकासी के लिए सोख्ता गढ्ढा का निर्माण, लोगों तक स्वच्छता का संदेश पहुंचाने के लिए स्वच्छता रैली, हाथ धुलाई संबंधी कार्यक्रम का आयोजन कर लोगों को जलजनित बीमारियों के बारे में बताने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने आंगनबाड़ी केंद्रों की साफ-सफाई सुनिश्चित करने जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देशित किए।

     उन्होंने 2 अक्टूबर को शासकीय कार्यालयों में स्वच्छता शपथ लेने व स्वच्छता संबंधी कार्यक्रमों के आयोजन के निर्देश दिए।

     इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.पी.आर.कुंभकार, डिप्टी कलेक्टर श्री वीरेंद्र बहादुर पंचभाई, खाद्य अधिकारी श्री एच.मसीह, नगर निगम, जिला पंचायत सहित अन्य विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

क्रमांक 761/तंबोली/

Date: 
30 Sep 2014