Homeरायगढ़ : खुले में शौच मुक्त ब्लाक बनने की ओर अग्रसर तमनार

Secondary links

Search

रायगढ़ : खुले में शौच मुक्त ब्लाक बनने की ओर अग्रसर तमनार

Printer-friendly versionSend to friend

रायगढ़, 7 अक्टूबर 2015

रायगढ़ जिले का तमनार विकास खण्ड स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत खुले में शौच मुक्त ब्लाक बनने की ओर तेजी से अग्रसर है। इस ब्लाक के शत-प्रतिशत गांवों में स्वच्छता की बयार बह रही है। ग्रामीण स्वयं की राशि से स्वस्र्फूत रूप से अपने-अपने घरों में शौचालय का निर्माण और उसका उपयोग सुनिश्चित करने के लिए संकल्पबद्ध हो चुके है। इस जनपद की ग्राम पंचायत जामचुंवा सहित कई गांव खुले में शौच मुक्त हो चुके है। हाल ही में खुले में शौच से मुक्त हुए गांवों में शीघ्र ही स्वच्छता उत्सव मनाए जाने की तैयारी भी पंचायतों द्वारा की जा रही है। यहां यह उल्लेखनीय है कि तमनार ब्लाक में कुल 61 ग्राम पंचायतें और 116 गांव है। इस ब्लाक की एक ग्राम पंचायत बुडिय़ा सहित जामचुंवा, जमडबरी एवं बगबुड़ा खुले में शौच मुक्त हो चुके है। इन गांवों में प्रशासन द्वारा विधिवत स्वच्छता उत्सव का आयोजन कर उक्त गांवों को खुले में शौच मुक्त घोषित किया जा चुका है।
    तमनार ब्लाक के 5 गांव बरपाली, सराईपाली, गौरमुड़ी, टिलीरामपुर और झिंकाबहाल के ग्रामीणों ने भी स्वयं की राशि से अपने-अपने घरों में शौचालय का निर्माण कराकर उसका उपयोग कर रहे है। उक्त पांचों गांवों के ग्रामीणों ने अपने-अपने गांवों में स्वच्छता उत्सव मनाने के लिए प्रशासन से तिथि निर्धारण का आग्रह किया है। एक सप्ताह के भीतर उक्त पांचों गांवों में स्वच्छता उत्सव मनाकर इन गांवों को विधिवत खुले में शौच मुक्त गांव घोषित किया जाएगा। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एल.एन.पटेल ने बताया कि इसके अलावा जिले के 28 गांव भी खुले में शौच मुक्त होने के लिए लामबंद होकर अपने-अपने घरों में शौचालय का निर्माण करा रहे है। आगामी 15 दिनों में यह 28 गांव भी खुले में शौच मुक्त गांव बनने का गौरव हासिल कर लेंगे।   
    कलेक्टर श्रीमती अलरमेलमंगई डी ने आज सृजन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से गांवों के ओडीएफ बनने की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने तमनार ब्लाक के गांवों में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत तेजी से कराए जा रहे शौचालय निर्माण की स्थिति की सराहना की। उन्होंने जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एल.एन.पटेल को 31 दिसम्बर तक जनपद पंचायत के शत-प्रतिशत गांवों को खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य देते हुए कहा कि 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में तमनार ब्लाक को खुले में शौच से मुक्त ब्लाक घोषित किया जाएगा। उन्होंने सभी जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को भी इस दिशा में तेजी से कार्य करने तथा इस अभियान को जन अभियान बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने पूर्व में निर्मल घोषित हो चुकी ग्राम पंचायतों की स्थिति का आंकलन कर उन्हें भी ओडीएफ बनाने के निर्देश दिए।
    कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने बैठक में एसईसीएल द्वारा तमनार ब्लाक के स्कूलों में बनाए जा रहे शौचालय की गुणवत्ता की शिकायत के मद्देनजर जीएम श्री चौधरी को निर्माण  एजेंसी को विशेष हिदायत देने के निर्देश दिए। तमनार के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं एसईसीएल के सीई को संयुक्त रूप से दौरा कर शालाओं में बनाए गए शौचालय की गुणवत्ता का मुआयना करने के भी निर्देश कलेक्टर ने दिए। गुणवत्ताहीन शौचालयों का 10 दिवस के भीतर आवश्यक सुधार के भी निर्देश दिए।   

 

स.क्र./35/नसीम अहमद

Date: 
07 Oct 2015