Homeरायपुर : राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल एवं स्वच्छता जागरूकता सप्ताह के संबंध में बैठक संपन्न

Secondary links

Search

रायपुर : राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल एवं स्वच्छता जागरूकता सप्ताह के संबंध में बैठक संपन्न

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 13 मार्च 2015

कलेक्टर ठाकुर रामसिंह ने कहा कि आगामी 16 से 22 मार्च तक राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल एवं स्वच्छता जागरूकता सप्ताह के दौरान जिले के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में आम जन को अपने कार्यालयीन परिसर, निजी स्वच्छता एवं अपने आस-पास के वातावरण की साफ-सफाई के प्रति जागरूक किया जायेगा।

          जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती किरण कौशल ने आज स्थानीय कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में स्वच्छता जागरूकता सप्ताह के संबंध में आवश्यक जानकारी दी। उन्होने बताया कि जागरूकता सप्ताह के प्रथम दिवस सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सभा का आयोजन किया जायेगा तथा जनप्रतिनिधियों द्वारा कार्यक्रम का आरंभ किया जायेगा। जागरूकता सप्ताह के दौरान सभी शाला, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्रों, पंचायत भवनों एवं उनके शौचालयों की साफ-सफाई की जायेगी।

          उन्होने जागरूकता सप्ताह में सूचना, शिक्षा एवं संचार सलाहकार, स्वच्छता दूत, खण्ड एवं जिला समन्वयक तथा ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति के सदस्य, शालेय छात्र, आंगनबाड़ी कार्यकता, स्व सहायता समूह, शिक्षक, डॉक्टर, पंचायत राज संस्थाएं, पटवारी तथा समस्त विभागों के ग्राम स्तरीय कार्यकता, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं गांव के प्रतिष्ठित व्यक्तियों, एन.सी.सी. कैडेट, स्काउट के छात्र एवं छात्राएं, नेहरू युवा केन्द्र के कार्यकर्ता, रोटरी एवं लायन्स क्लब स्वयंसेवी संस्थाओं, सी.एस.ओ., स्व सहायता समूह, विशेषकर महिला स्व सहायता समूह, अन्य विभाग जैसे स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्कूल शिक्षा विभाग, आदिम जाति कल्याण आदि विभागों के अधिकारी, कर्मचारियों को सक्रिय भूमिका निभाने की अपील की।

            जागरूकता सप्ताह के दौरान पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा गा्रम सभा का आयोजन, प्रभात फेरी, रैली, कला जत्था, शौचालय के नियमित उपयोग हेतु प्रेरित किया जायेगा। वहीं स्कूल शिक्षा, आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा स्कूल, आश्रम शाला में रैली, स्वच्छता शपथ ग्रहण, पेयजल स्त्रोतों एवं शालेय शौचालय की सफाई, शालाओं में स्वच्छता से संबंधित प्रतियोगिताएं, मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत भोजन पकाने एवं खिलाने की जगह की सफाई, बर्तनों की धुलाई का महत्व समझाया जायेगा। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्र में रसोई के बर्तन की धुलाई, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका के माध्यम से बच्चों में स्वच्छता की आदतों की जागरूकता, पेयजल स्त्रोतो की सफाई, चिकित्सालयों, स्वास्थ्य केन्द्रों में सामान्य सफाई के साथ साथ शौचालयों की विशेष सफाई का कार्य किया जायेगा। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित सभी पेयजल स्त्रोतों की गुणवत्ता जांच करने, गुणवत्ता प्रभावित पेयजल स्त्रोतों को कलर कोड से पेंटिंग की जायेगी तथा जल संरक्षण हेतु जागरूकता गतिविधियों का आयोजन किया जायेगा। जागरूकता सप्ताह के दौरान घर-घर सम्पर्क, रैली, मिटिंग, पाम्प्लेट पोस्टर वितरण आदि के द्वारा स्वच्छता के प्रति आम जन को जागरूक किया जायेगा।

क्रमांक: 03-06/सीमा

Date: 
13 Mar 2015