Homeरायपुर : स्वच्छता जागरूकता सप्ताह 16 से 22 मार्च तक : गांवो में स्वच्छता के लिए चलाया जाएगा विशेष अभियान

Secondary links

Search

रायपुर : स्वच्छता जागरूकता सप्ताह 16 से 22 मार्च तक : गांवो में स्वच्छता के लिए चलाया जाएगा विशेष अभियान

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 14 मार्च 2015

राष्ट्रीय ग्रामीण पेय जल एवं स्वच्छता जागरूकता सप्ताह के दौरान 16 से 22 मार्च तक आम नागरिकों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाएगा। इस दौरान गांवों में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएगें। जिले में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा सभी गांवों में ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रत्येक स्तर पर आम नागरिकों की सहभागिता भी होगी। गांवो में स्वच्छता रथ तैयार कर स्वच्छता के प्रति लोगों को प्रेरित किया जाएगा। प्रभात फेरी, रैली और सांस्कृतिक कार्यक्रमो का भी आयोजन किया जाएगा। गांव में लोगो को शौचालय के नियमित प्रयोग का संदेश दिया जाएगा। स्वच्छता सप्ताह के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वालों का सम्मान भी किया जाएगा।
          स्वच्छता सप्ताह के लिए 16 से 22 मार्च तक विभिन्न कार्यक्रमों का किया जाएगा। सप्ताह के आरंभ में स्वच्छता जागरूकता के लिए सभी विकासखंण्ड से एक-एक स्वच्छता जागरूकता रथ निकाला जाएगा जो गांवों में पहुचकर लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक करेगा। इसी दिन गांवों में ग्राम सभा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ लोगो को स्वच्छता के महत्व के बारे में बताया जाएगा। इस कार्य के लिए जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी को नोडल बनाया गया है। 17 मार्च को पंचायत के अंतर्गत आने वाली सभी शासकीय भवनों में ग्रामीणों के सहयोग से साफ-सफाई का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसके लिए विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी और महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है। इसी प्रकार 18 मार्च को गांव की गलियों और निस्तारी तालाब की सफाई की जाएगी। सार्वजनिक चौक-चौराहों में साफ-सफाई एवं स्वच्छता से संबंधित नारा लेखन का कार्य किया जाएगा। यह कार्य कृषि विकास अधिकारी की देख-रेख में करवाया जाएगा। 19 मार्च को गांव में जल संरक्षण के कार्यो को बढ़ावा देने संबंधित कार्यक्रम किए जाएंगे। गांव में स्थापित हैंड पंप, नल जल योजना, टंकी, स्टैण्ड पोल और सामाजिक भवनो की साफ सफाई की जाएगी। सोख्ता गढढो का निर्माण किया जाएगा। इस दौरान स्कूलो में बने शौचालयों के साथ ही सामाजिक भवनों में भी साफ-सफाई संबंधित समाज के द्वारा की जाएगी। पी.एच.ई. और ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के एस.डी.ओ. को नोडल अधिकारी बनाया गया है। 20 मार्च को गांवो में स्वच्छता के लिए प्रभात फेरी आयोजित की जाएगी। सामूहिक चर्चा के साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किए जाएगें। पारम्पारिक खेल-कुद और पालक सम्मेलन का भी आयोजन किया जाएगा। इसी दिन बच्चों का स्वास्थ्य परिक्षण भी होगा। जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को इसकी जिम्मेदारी दी गई हैं। 21 मार्च को घर-घर जाकर लोगों को स्वच्छता का संदेश स्कूली बच्चों द्वारा दिया जाएगा। व्यक्तिगत साफ-सफाई, घर की सफाई और जानवर रखने के स्थान की साफ-सफाई के लिए प्रेरित किया जाएगा। इस दौरान उनसें अपने आस-पास का वातावरण साफ रखने का निवेदन भी किया जाएगा। यह कार्य जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के नेतृत्व में किया जाएगा। सप्ताह के अंतिम दिन 22 मार्च को विकासखंड और ग्राम स्तर पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। विकासखंड स्तर के कार्यक्रम सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में और गांव स्तर के कार्यक्रम पंचायत भवन में किए जाएगें। इस दिन लोगों के स्वास्थ्य प्रशिक्षण के साथ ही फोटो प्रदर्शनी भी आयोजित की जाएगी। समापन कार्यक्रम में स्वच्छता सप्ताह के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों को सम्मान भी दिया जाएगा।
क्रमाक: 03-28/रचना







 

Date: 
14 Mar 2015